एलोवेरा के फायदे, नुकसान, कैसे काटे जानिए सभ कुछ।

इंट्रो | Intro

तो नमस्ते दोस्तों। आज के इस आर्टिकल में हम बात करेंगे। एलोवेरा के फायदे ? एलोवेरा के नुकसान? एलोवेरा को कैसे काटे? आज के इस आर्टिकल में मैं आपको सभ कुछ अच्छी तरह से बताऊंगा। आप यह आर्टिकल पूरा पढ़िएगा। तो चलिए इस आर्टिकल को शुरू करते हैं।

नोट = एलोवेरा को इस्तेमाल करने से पहले उसके नुकसान और उसे इस्तेमाल करने के बारे में जरूर जान लें।

एलोवेरा के बारे में जानकारी

aloe vera

एलोवेरा को हिन्दी में घृतकुमारी के नाम से जाना जाता है। एलोवेरा के अंदर 95% पानी 5% सॉलिड होता है। इस 5% सॉलिड में 20 प्रकार के अमीनो एसिड होते है। एलोवेरा कई देसी दवाईयों में भी इस्तेमाल किया जाता है। एलोवेरा के अंदर 2 तरह के केमिकल पाए जाते हैं। जिनके नाम असीमेनोन, एलोवेरोस हैं। यह 2 केमिकल बॉडी में टी-लिम्फोसाइट को बूस्ट करती है। जिससे आपके शरीर में रोगों से लड़ने की क्षमता बढ़ती है।

पढ़े = What is Immunity? | Innate & Adaptive Immunity | In Hindi

एलोवेरा के फायदे

तो चलिए अभी हम बात करते हैं। एलोवेरा के फायदे कोन-कोन से हैं। वैसे तो एलोवेरा के फायदे बहुत से हैं। लेकिन मैं आपको कुछ गिने-चुने फायदे बताऊंगा। तो फायदे कुछ इस प्रकार है।

  1. यह शरीर में ब्लड ग्लूकोस की मात्रा को कम करता है। इसका मतलब है। अगर किसीको डायबेटीज हैं। तो यह उनके लिए बाडिया चीज है।
  2. अगर आपको गैस की दिक्कत है। तब भी ऐलोवेरा आपके लिए बाडिया साबित होगा।
  3. इससे आपकी इम्यूनिटी बढ़ती है।
  4. यह Inflammation को कम करने में मदद करता है।
  5. अगर कोई Stomach Infection और Ulcer के पीड़ित है। तो एलोवेरा उसके लिए लाभदायक है।
  6. यह गुर्दों के रोगों से बचाता है।
  7. एलोवेरा तावचा को Hydrate रखने में मदद करता है।
  8. एलोवेरा के अंदर enzymes होते है। जो खाने को अंदर जाने के बाद पचाने में मदद करते हैं।
  9. इसकी Inflammation property के कारण अगर आप इस खाते हैं। तो यह आपके जख्मों को भरने में मदद करेगा।
  10. इसमें एंटीऑक्सीडेंट प्रॉपर्टी होती है।

एलोवेरा के नुकसान

इसके कई नुकसान भी हैं। कृप्या करके आप इसने पूरा पढ़े। क्योंकि आधी जानकारी होना बहुत फतरनाक होता है।

  1. एलोवेरा के अंदर लेटेक्स (latex) होता है। तो आपके सरीर के लिए नुकसानदायक है।
  2. अगर कोई महिला गर्भ (Pregnant) से हैं। तो एलोवेरा की लिटिक्स (letix) प्रॉपर्टी के कारण आपको जन्म के समय दिक्कत का सामना करना पढ़ सकता है।
  3. लूज मोशन की दिक्कत रहने वाले इंसान को भी एलोवेरा नही खाना चाहिए।
  4. किसी को दिल से लेकर कोई रोग है। तो वह भी इससे ना खाए। क्योंकि एलोवेरा खाने से शरीर में पोटेशियम बढ़ता है। जो की आपके शरीर के लिए अच्छा नहीं है।
  5. अगर आप ऐलोवेरा को हद से ज्यादा इस्तेमाल करेंगे। तो इसके आपको नुकसान भी देखने पढ़ सकते हैं।

एलोवेरा से जुड़े कुछ प्रशन

Q1. एलोवेरा कोन कोन के प्रोडक्ट आते है ?

Ans. आप घर में भी एलोवेरा का पौधा लगा सकते हैं। और आपको बाजार में एलोवेरा का जूस, फेस-वॉश मिल जायेगा। बाजार से एलोवेरा जूस लेते समय यह बात का ध्यान रखे की उसमे एलोवेरा की मात्रा सही हो।

Q2. एलोवेरा का जूस कैसे पिए ?

Ans. एलोवेरा के जूस के 2 चमच पानी में डालकर पी सकते है।

Q3. रॉ (Raw) एलोवेरा को कैसे कटे ?

Ans. एलोवेरा खाने से पहले आपको मैंने कुछ चीजें बताई हैं। आप उन्हें फॉलो करके ऐलोवेरा को काटकर खा सकते है।

  1. एलोवेरा को गमले में से तोड़िए।
  2. आपको एलोवेरा तोड़ने के बाद उसके नीचे से पीला (Yellow) तरल दिखेगा। उसे लेटिक्स (Letix) कहते है।ध्यान रखिए यह आपको नही खाना है। यह आपके शरीर को नुकसान करेगा।
  3. लेटिक्स को बाहर निकलने के लिए आप एलोवेरा के पते को किसी तार पर सुखाने के लिए डाल दीजिए। इससे लेटिक खुद ब खुद अपने आप थोड़े समय तक बाहर निकल जायेगा। आप एलोवेरा के पते को कम से कम 12-15 घंटे तक सुखाए। और सुखाने के बाद आप यह देख ले की उसके अंदर पीला तरल एकदम खतम हो चुका हो।
  4. अभी पीला तरल निकल जाने के बाद। आप ऐसे अच्छी तरह पानी से धोएं। जिससे उसके ऊपर लगी हुई मिटी हट जाएगी।
  5. उसके बाद अपने जितना ऐलोवेरा इस्तेमाल करना है। आप उसे काट कर रख लीजिए और बाकी को Fridge में रख दीजिए।
  6. जो अपने इस्तेमाल करने के लिए ऐलोवेरा काटा है। आप उसे 5-7 मिनट पानी में रखे। जिससे अगर उसे लेटिक्स (Letix) बचा होगा तो वह निकल जायेगा।
  7. इसके बाद आप ऐलोवेरा के ऊपर से हरे (Green) रंग के छिलके को हटाएं।
  8. उसके अंदर से निकलने वाले जेल को अभी आप इस्तेमाल कर सकते है।

पढ़े = Caffeine Benefits and Side Effect | कैफीन के फायदे और नुकसान | In Hindi

अंत | End

तोह मैं आशा करता हूं। की आपको आपके सभी प्रशन के उत्तर मिल गए होंगे। अगर आपका कोई प्रशन रह गया है। तो आप हमे कमेंट बॉक्स में पूछिए। मैं आपको उसके बारे बारे जरूर बताऊंगा। और उसे इस आर्टिकल में भी डालूंगा। अगर आपका कोई सुझाव है। तो आप हमे इस लिंक पर क्लिक करके बता सकते है। तो मैं मिलूंगा आपसे एक नए आर्टिकल में तब तक के लिए हस्ते रहे। और स्वस्त रहे।

Share with your freinds
0Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!